आज का लेख, जलतरंग, समय विशेष

एक गीत : श्री अनुपम मिश्र

सबसे लम्बी रात का सुपना नया
देह अनुपम बन उजाला कर गया।

Continue reading