Category

नदी लेख

नदी लेख

जन जुङे, तब विनाश रुके

अभी लोग सोचते हैं कि नदियां सरकार की हैं। समस्या का समाधान भी सरकार ही करेगी। यह सोच ही समाधान के मार्ग में सबसे बङी बाधा है। यह सोच बदलनी होगी। सोच बदली तो ये लोग ही सरकारों को बता देंगे कि तात्कालिक योजना बाढ राहत की जरूर हो, लेकिन…

Continue reading
आज का लेख, नदी लेख

बाढ़ नहीं, इसकी तीव्रता व टिकाऊपन से डरें

लेखक : अरुण तिवारी बाढ़ के कारणों पर चर्चा के शुरु में ही एक बात साफ कर देनी जरूरी है कि बाढ़ बुरी नहीं होती; बुरी होती है एक सीमा से अधिक उसकी तीव्रता तथा उसका जरूरत से ज्यादा दिनों तक टिक जाना। बाढ़, नुकसान से ज्यादा नफा देती है।   “वे…

Continue reading
आज का लेख, नदी लेख

एक चिट्ठी, धर्माचार्यों के नाम

संदर्भ: मूर्ति विसर्जन पर प्रधानमंत्री जी  के मन की बात 01-09-2016 सभी आदरणीय धर्माचार्यों को प्रणाम।  मूर्ति विसर्जन से नदी प्रदूषण के मसले को लेकर ’मन की बात’ कहते हुए प्रधानमंत्री जी ने प्लास्टिक आॅफ पेरिस की बनी मूर्तियों का इस्तेमाल न करने का जो आहवा्न किया है, निश्चित ही वह प्रशंसनीय है,…

Continue reading
आज का लेख, नदी लेख

अवैध खनन को नियमित करने में जुटे हरीश रावत : गंगा का क्या होगा ??

प्रेस विज्ञप्तिदिनांक 25 जुलाई, 2016, मातृसदन, हरिद्वार विरोध करेगा  मातृसदन  यह प्रमाणित तथ्य है कि गंगाजी में एक भी पत्थर उपर से बहकर / लुढ़कर हरिद्वार में नहीं आता है। इस बात को स्वयं केन्द्रीय वन, पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय, नई दिल्ली ने जाँच में प्रमाणित किया है। वर्ष…

Continue reading
आज का लेख, नदी लेख

वर्तमान कानून गंगा रक्षा में विफल

 लेखक : परितोष त्यागी(पूर्व अध्यक्ष, केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ) वर्ष 1986 से गंगा जी को प्रदूषण मुक्त करने के लिए गंगा एक्शन प्लान नाम की योजना पर काम हो रहा था. अब नमामि गंगे नामक कार्यक्रम में 200 से अधिक प्रोजेक्ट पर काम किया जायगा. गंगा एक्शन प्लान की असफलता…

Continue reading
आज का लेख, नदी लेख, संवाद

उमा जी सामने होती, तो गर्दन पकङ लेता : स्वामी सानंद

प्रस्तोता: अरुण तिवारी(यह प्रस्तुति, इसी जुलाई के दूसरे सप्ताह में स्वामी सानंद से हुई बातचीत के अंशों पर आधारित है )21वें कथन के साथ ‘स्वामी सानंद गंगा संकल्प संवाद श्रृंखला’ संपन्न हुई, तो अलग-अलग सवाल कई के मन में उठे; गांधी शांति प्रतिष्ठान के आदरणीय रमेश भाई, यमुना जिये अभियान…

Continue reading
आज का लेख, नदी लेख, पानी लेख, समय विशेष

प्रतापगढ़ में भूजल संगोष्ठी

फोटो एवम् जानकारी स्त्रोत : आर. के. गुप्ता – सहायक अभियंता (लघु सिंचाई), प्रतापगढ़, उ.प्र. पानी के बिना जीवन सम्भव नही – मुख्य विकास अधिकारीहर वर्ष की तरह उत्तर प्रदेश शासन इस  वर्ष भी भूजल सप्ताह मना रहा है। 16 से 22 जुलाई के इस सप्ताह में प्रदेश में प्रत्येक जिले में गोष्ठियों…

Continue reading
आज का लेख, नदी लेख, पानी लेख, समय विशेष

नर्मदा जल ज़मीन हक़ सत्याग्रह की तैयारी शुरु

प्रस्तोता: अरुण तिवारी उन्होने 30 जुलाई से नर्मदा के जल और ज़मीन के हुकूक के लिए सत्याग्रह करना तय किया है। इसकी तैयारी के लिए वे उन्होंने 13 जुलाई से 15 जुलाई तक नर्मदा परिक्रमा की। 21  से 23 जुलाई को नर्मदा किनारे वाहन यात्रा की योजना है। 19 से 22 जुलाई…

Continue reading
आज का लेख, नदी लेख, पानी लेख

एक अभियान बने भारतीय जल दर्शन

 लेखक: अरुण तिवारी हम जगत के प्राणी जो कुछ भी करते हैं, उसका उद्देश्य सुख है। किंतु हम यदि जानते ही न हों कि सुख क्या है, तो भला सुख हासिल कैसे हो सकता है ? यह ठीक वैसे ही बात है कि हम प्रकृति को जाने बगैर, प्रकृति के…

Continue reading
आज का लेख, नदी लेख

ये तो गंगा के व्यापारी निकले

 लेखक: अरुण तिवारी उन्होने कहा – ”मुझे मां गंगा ने बुलाया है।”  लोगों ने समझा कि वह गंगा की सेवा करेंगे। बनारसी बाबू लोगों ने उन्हे बनारस का घाट दे दिया; शेष ने देश का राज-पाट दे दिया। उन्होने ’नमामि गंगे’ कहा; जल मंत्रालय के साथ ‘गंगा पुनर्जीवन’ शब्द जोङा;…

Continue reading