दीपपर्व 2017 मंगलमय

  जब अंधकार की चुनौती पर  कोई दिल संकल्प ठानता है, कुछ किरणें लोहा लेती हैं, कुछ दीए सूरज...

05 सितम्बर - भारतीय  राष्ट्रीय शिक्षक दिवस पर विशेष 

डी एन ए विकसित करने की भूमिका में आयें शिक्षक लेखक: अरुण तिवारी   शानदार इमारतें, आधुनिकतम उपकरण, तकनीक,...

समाज का प्रकृति एजेण्डा जगाती एक पुस्तक

  पुस्तक का नाम: समाज, प्रकृति और विज्ञान लेखक: श्री विजयदत्त श्रीधर, श्री राजेन्द्र हरदेनिया, श्री कृष्ण गोपाल व्यास,...

गंगोत्री के हरे पहरेदारों की पुकार सुनो

लेखक: सुरेश भाई एक ओर ‘नमामि गंगे’  के तहत् 30 हजार  हेक्टेयर भूमि पर वनों के रोपण का लक्ष्य...

NAPM निमंत्रण : ‘मुक्त बहने दो’ पुस्तक विमोचन तथा उत्तराखंड में भूमि का सवाल पर चर्चा

जन आंदोलनों का राष्ट्रीय समन्वय, उत्तराखंड                      कंडी खाल, पो0 आ0 कैम्पटी वाया मसूरी, टिहरी गढवाल, उत्तराखंड–248179      09718479517, 9927145123...
आज का लेख, समय विशेष
दीपपर्व 2017 मंगलमय
आज का लेख, समय विशेष
05 सितम्बर - भारतीय  राष्ट्रीय शिक्षक दिवस पर विशेष 
आज का लेख, नदी लेख, पानी लेख, प्रकृति लेख
समाज का प्रकृति एजेण्डा जगाती एक पुस्तक
आज का लेख, नदी लेख, प्रकृति लेख
गंगोत्री के हरे पहरेदारों की पुकार सुनो
आज का लेख, नदी लेख, पानी लेख, प्रकृति लेख, समय विशेष
NAPM निमंत्रण : ‘मुक्त बहने दो’ पुस्तक विमोचन तथा उत्तराखंड में भूमि का सवाल पर चर्चा
आज का लेख, समय विशेष

तम्बाकू छोडो : सेहत बचाओ

तम्बाकू एक नशा : संकल्प ही विकल्प 31 मई – विश्व तंबाकू निषेघ दिवस पर विशेष लेखक : अरुण तिवारी    तंबाकू नशा है और इसे इस्तेमाल करने वाले – नशेङी ! संभव है यह संबोधन तंबाकू खाने वालों को बुरा लगे, लेकिन समय का सच यही है और विश्व तंबाकू निषेध दिवस की चेतावनी भी। भारत में जितनी भी चीजें नशे…

Continue reading
आज का लेख, नदी लेख

गाद को बहने दो

लेखक: अरुण तिवारी   सैंड, सेडिमेन्ट और सिल्ट यानी रेत, गाद और तलछट। सबसे मोटा कण रेत, उससे बारीक गाद और उससे बारीक कण को तलछट कहते हैं। रेत, स्पंज की तरह होता है। इस नाते रेत का काम होता है, नदी के पानी को सोखकर उसे सुरक्षित रखना। नदी से जितना अधिक गहराई से रेत निकालते जायेंगे, नदी की…

Continue reading
आज का लेख, नदी लेख, पानी लेख

केन-बेतवा नदी जोड़

गठजोड़ हुआ, तो पन्ना टाइगर रिज़र्व का नाश तय  लेखक : आशीष सागर बुन्देलखण्ड क्षेत्र के यूपी-एमपी में प्रस्तावित केन-बेतवा नदी लिंक प्राकृतिक आपदा है – केंद्र सरकार ने फारेस्ट एडवाइजरी कमेटी से वन्यभूमि अधिग्रहण करने की एनओसी प्राप्त की – पर्यावरण मंत्रालय ने अभी मामले को उलझा रखा है उधर सुप्रीम कोर्ट अपनी निगरानी में टाइगर बफर जोन में…

Continue reading
आज का लेख, नदी लेख

नर्मदा सेवा यात्रा : जनांदोलनों के राष्ट्रीय समन्वय का सन्देश

  हमारी मांग : नर्मदा सेवा यात्रा का हिसाब और हासिल  बतायें   सिंहस्थ के बाद एक और खर्चीला कार्यक्रम मुख्यमंत्री शिवराज सिंहजी ने चलाया, वह था ‘नर्मदा सेवा यात्रा’ का। इस यात्रा में स्थानीय लोगों ने कही खाना खिलाया भी हो, तो भी करोडों का खर्च एकआम सभा पर। बडवानी जिला स्तर की एक मीटिंग ही करोड़ों की हुई । मीटिंग…

Continue reading
आज का लेख, नदी लेख

बिहार गाद संकट

समाधान, पहल और चुनौतियां लेखक: अरुण तिवारी जल संसाधन विभाग, बिहार सरकार द्वारा गंगा विमर्श हेतु 18-19 मई, 2017 को को इण्डिया इंटरनेशनल सेंटर, लोदी इस्टेट, नई दिल्ली में सेमिनार आयोजित किया गया था। आयोजन में मैने जो विचार साझा करने थे, समयाभाव के कारण कुछ ही कर पाया। आपसे पूरी बात साझा कर रहा हूं। हालांकि मैैं न कोई नदी…

Continue reading
पानी लेख, समय विशेष

दुष्काल मुक्त भारत अभियान : निमंत्रण-पत्र

  आदरणीया मित्रों,    नमस्कार! इस वर्ष देश के कई हिस्से भयंकर दुष्काल से प्रभावित हैं। प्रभावित क्षेत्रों में पहले ऐसा जलवायु परिवर्तन का असर नहीं होता था परन्तु कुछ वर्षों में ये क्षेत्र भी सूखे और बाढ़ की चपेट में एक साथ आने लगे। आजादी के बाद से भारत की केन्द्र और राज्य सरकारों ने जल प्रबन्धन के लिए…

Continue reading
आज का लेख, नदी लेख

एक नद्य ब्रह्मपुत्र: प्रथम संवाद

ब्रह्मपुत्र जैसा कोई नहीं  लेखक : अरुण तिवारी जैसे पूर्वोत्तर भारत के सात राज्यों के बिना भारत के बाजूदार नक्शे की कल्पना अधूरी है, वैसे ही ब्रह्मपुत्र के बिना पूर्वोत्तर भारत का कल्पनालोक भी अधूरा ही रहने वाला है। ब्रह्मपुत्र, पूर्वोत्तर भारत की संस्कृति भी है, सभ्यता भी और अस्मिता भी। ब्रह्मपुत्र बर्मी भी है, द्रविड़ भी, मंगोल भी, तिब्बती भी,…

Continue reading
आज का लेख, नदी लेख, समय विशेष

नर्मदा कार्ययोजना: कुछ विचारणीय सुझाव

07.05.2017 आदरणीय/आदरणीया नमस्ते। नर्मदा सेवा यात्रा 15 मई को सम्पन्न हो रही है। इससे प्रेरित होकर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी श्री आदित्यनाथ जी द्वारा गंगा सेवा यात्रा हेतु 400 करोड़ रुपये मंजूर किए जाने के समाचार से आप अवगत ही होंगे। विदित हो कि नर्मदा कार्ययोजना हेतु विशेषज्ञ राय लेने की दृष्टि से मध्य प्रदेश शासन 08 मई को…

Continue reading
आज का लेख, पानी लेख, समय विशेष

28 अप्रैल – अक्षय तृतीया पर विशेष : आइये, पानी के व्यावसायीकरण को चुनौती दें

  पानी के बाज़ार के खिलाफ एक औजार : प्याऊ  लेखक: अरुण तिवारी   अक्षया तृतीया की हार्दिक शुभकामना ! अक्षय तृतीया को राजस्थान में ’आखा तीज’ कहते हैं। ‘आखा तीज’ यानी अबूझ सावा का दिन। अबूझ सावा यानी एक ऐसा मुहुर्त, जिस मुहुर्त में बिना किसी पण्डित या ज्योतिषी से पूछे कोई भी शुभ काम शुरु किया जा सकता…

Continue reading
आज का लेख, पानी लेख

एकमात्र तैरती झील लोकटक

  लेखक: अरुण तिवारी   लोकटक झील, भारत में ताजे पानी की सबसे बड़ी झील है। यह झील मणिपुर की राजधानी इम्फाल से 53 किलोमीटर दूर और दीमापुर रेलवे स्टेशन के निकट स्थित है। 34.4 डिग्री सेल्सियस का तापमान, 49 से 81 प्रतिशत तक की नमी, 1,183 मिलीमीटर का वार्षिक वर्षा औसत तथा पबोट, तोया और चिंगजाओ पहाड़ मिलकर इसका…

Continue reading

Popular posts

ई दस्तावेज : हिण्डन-यमुना-गंगा नदी पंचायत निर्णय

हिंडन-यमुना-गंगा पंचायत का निर्णयदिनांक 11 जून, 2015 1. संदर्भ: गंगा के प्रवाह में प्रदूषित पानी की आवक औसतन 700 क्युसेक है; जबकि यदि पूरी क्षमता के साथ वर्षा जल...

Campaign in Poetry by Shri Bharat Lal Seth

श्री भरत लाल सेठसंपर्क : [email protected] ( ज्येष्ठ मास, शुक्ल पक्ष, तिथि दशमी, हस्त नक्षत्र, दिन मंगलवार। बिंदुसर के तट पर राजा भगीरथ का तप सफल हुआ। पृथ्वी पर गंगा...